पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी की प्रतिमा स्थापित करने बनाये गए चबूतरे को निगम अमले ने तोड़ा,जोगी कांग्रेस ने मांगा जवाब  

0
90

रायपुर (प्रखर)। पूर्व मुख्यमंत्री स्व. अजीत जोगी की प्रतिमा स्थापित करने के लिए बनाये गये चबूतरा  को निगम के अमले ने तोड़ दिया। जिसके बाद जोगी समर्थक आग बबूला हो गये औऱ निगम की इस कारर्वाई की कड़ी निंदा करने लगे। इस दौरान जोगी कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता भगवानू नायक ने निगम का कारर्वाई की आलोचना करते हुए इसे ओछी राजनीति करार दिया और छत्तीसगढ़ की ढाई करोड़ जनता का अपमान करने वाला बताया।

भगवानू नायक ने आगे कहा विरोधी यह मत भूले की छत्तीसगढ़ के माटी पुत्र स्व. जोगी ने छत्तीसगढ़ को देश और दुनिया मे नई पहचान दिलाई हैं । जिस निगम के अमले ने आकर निर्माणाधीन चबूतरे को तोड़कर जोगी की मूर्ति लगाने से रोकने का प्रयास किया । वह निगम यह न भूले कि इस निगम को जोगी ने ही वर्ष 2003 में नगर पालिका का दर्जा दिलाया था। विरोधी कितना भी रोक ले जोगी अमूर्त रूप से सदियों तक छत्तीसगढ़ियों के दिलों में राज करते रहेंगे। स्वर्गीय जोगी हमेशा से ही नई पीढ़ी के प्रेरणास्रोत रहे है और इस मूर्ति के माध्यम से सबको नई ऊर्जा से सरोबोर करते रहेंगे। इसके अलावा जनता कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवज देवांगन ने कहा छत्तीसगढ़ महतारी और स्व. जोगी का भव्य मूर्ती बनकर तैयार है जिसे बुधवारी बाजार, बीरगांव में लगाया जाएगा। उक्त स्थल की निजी सम्पति नहीं बल्कि शासकीय भूमि है। जिसमें छत्तीसगढ़ महतारी और छत्तीसगढ़ के माटी पुत्र राज्य के प्रथम मुख्यमंत्री स्व जोगी का मूर्ति लगाकर सौन्द्रयीकरण किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here