सोंढूर बांध के पांच गेट से 24 सौ क्यूसेक पानी छोड़ा जा रहा

0
327

धमतरी। नगरी क्षेत्र में हुई बारिश से सोंढूर बांध 88 फीसदी भर चुका है। लगातार आवक के चलते केनाल और नदी में 24 सौ क्यूसेक पानी का डिस्चार्ज शुरू कर दिया गया है। इधर गंगरेल और रूद्री केनाल से भी डिस्चार्ज को बढ़ा दिया गया है।
नगरी क्षेत्र में पिछले 24 घंटों में लगभग 13 मिमी वर्षा दर्ज की गई है। उस क्षेत्र में हो रही बारिश से सोंढूर बांध की स्थिति बहुत अच्छी हो गई है। बुधवार तक बांध लगभग 88 फीसदी भर चुका है। आवक 38 सौ क्यूसेक होने की वजह से 24 सौ क्यूसेक पानी का डिस्चार्ज नदी और नहर में किया जा रहा है। आवक कम होने पर डिस्चार्ज को भी कम किया जा सकता है। गंगरेल के कैचमेंट एरिया में भी बारिश होने से आवक शुरू हो गई है। बांध में बुधवार दोपहर 2 बजे तक पानी की आवक 3792 क्यूसेक रही। बांध के पेन स्टाक से 7 सौ और केनाल में 300 समेत कुल एक हजार क्यूसक पानी छोड़ा जा रहा है। गंगरेल बांध में कुल लगभग 20 टीएमसी पानी भर चुका है जिसमें उपयोगी जल 15 टीएमसी है। बांध 55 प्रतिशत भर गया है। इसी तरह मुरूमसिल्ली बांध 62 फीसदी, दुधावा 83 फीसदी भर गया है।
धमतरी अंचल में बारिश कम होने की वजह से फसलों को बचाने रूद्री केनाल से मंगलवार शाम डिस्चार्ज शुरू किया गया। 400 क्यूसेक से बढ़ते हुए बुधवार दोपहर 2 बजे तक डिस्चार्ज को 800 क्यूसेक कर दिया गया है। जिले में पिछले 24 घंटे में धमतरी 3.2 मिमी, कुरूद में 9 मिमी, नगरी में 12.8 मिमी वर्ष दर्ज की गई है। मगरलोड में बारिश ही नहीं हुई है। पिछले वर्ष 23 से 29 जुलाई के बीच 50 मिमी वर्षा हुई थी। जिसकी तुलना में इस वर्ष सिर्फ 26.3 मिमी वर्षा दर्ज की गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here