पंचायत सचिव को काम पर लौटने का नोटिस , प्रदर्शनकारियों ने जलायी आदेश की कॉपी, कहा- ‘हक की लड़ाई रहेगी जारी’

0
167

रायपुर (प्रखर)। प्रदेश सरकार ने हड़ताली पंचायत सचिवों को अल्टिमेटम जारी किया गया है। आदेश में कहा गया है कि 24 घंटे के अंदर अगर सभी सचिव जल्द कार्य पर लौटे नहीं तो आपके खिलाफ अनुशासत्मक कार्यवाही की जाएगी और पंचायतों में ग्राम पंचायत की नई नियुक्ति के संबंध में नियमानुसार कार्यवाही की जाएगी। अल्टीमेटम मिलने के बाद हड़ताल पर बैठे पंचायत सचिवों ने आदेश की कॉपी को जला दिया और कहा कि हमारा प्रदर्शन जारी रहेगा।

गौरतलब है कि पंचायत सचिव गत 26 दिसंबर से अपनी मांगों को लेकर लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं। उनकी मांगे हैं कि उन्हें नियमित किया जाए एवं जिन्हें बर्खास्त कर दिया गया है उन्हें तत्काल प्रभाव से वापस लिया जाए। वैसे तो पंचायत सचिव लगातार बूढ़ा तालाब प्रदर्शन स्थल पर ही धरना दे रहे थे लेकिन शुक्रवार को भाजपा का प्रदर्शन होने की वजह से उनका स्थान बदल दिया गया और उन्होंने इस दिन का प्रदर्शन ईदगाह भांटा में पूरा किया।

क्या लिखा है आदेश में
पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के सचिव की ओर से जारी सभी मुख्य कार्यपालन अधिकारी को एक आदेश जारी किया गया है। जिसमें कहा गया है कि प्रदेश के ग्रामपंचायतों में कार्यरत पंचायत सचिव 26 दिसंबर से अपनी विभिन्न मांगों के संबंध में अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए हैं। इससे ग्राम पंचायतों के कार्य के साथ-साथ शासन के विभिन्न हितग्राही मूलक कार्य प्रभावित हो रहे हैं। पंचायत संचालनालय के द्वारा 14 जनवरी से ग्राम पचंयातों के कार्यों के संचालन के लिए वैकल्पिक व्यवस्था की गयी है।

आदेश में यह कहा गया है कि यदि ग्राम पंचायत सचिव 24 घंटे के भीतर हड़ताल समाप्त कर अपने कार्य पर उपस्थित नहीं होने की दशा में छत्तीसगढ़ शासन पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग मंत्रालय के पत्र दिनांक 29 अगस्त 2008 ग्राम पंचायतों की सेवा शर्तों के अनुसार अनुशासनात्मक कार्यवाही करते हुए ग्राम पंचायतों में सचिव की नयी नियुक्त के संबंध में कार्यवाही तत्काल की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here