72वां गणतंत्र दिवस के लिए सेनाओं की तैयारियां जोरों पर, नहीं होगा सांस्कृतिक कार्यक्रम ना ही निकलेगी झांकियां

0
158
गंणतंत्र दिवस की तैयारियां
गंणतंत्र दिवस की तैयारियां

रायपुर (प्रखर)। प्रत्येक वर्ष पूरे देश में स्वतंत्रता दिवस और गणतंत्र दिवस बड़े ही धूम-धाम से मनाते है। विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रमों, सेनाओं के जज्बे की कहानियों और देश भक्ति गानों से लोगों में एक अलग ही उमंग और उत्साह रहता है। वहीं इस बार कोरोना काल के कारण स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर किसी भी प्रकार की सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन नहीं हो पाया था। इसका असर छत्तीसगढ़ में इस साल गणतंत्र दिवस पर भी देखने को मिल रहा है।

राजधानी रायपुर के पुलिस ग्राउंड में गणतंत्र दिवस की तैयारियां जोरों-शोरो से शुरु हो चुकी है। यहां होने वाले समारोह के लिए सुरक्षाबलों के जवानों की ओर से की जाने वाली परेड की रिहर्सल भी शुरु हो गई है। यहां हर वर्ष विभिन्न प्रकार के सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है और झांकियां निकाली जाती है। पर इस बार गणतंत्र दिवस के अवसर पर किसी भी प्रकार की सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन नहीं किया जाएगा ना ही झांकियां निकाली जाएगी। इस बार सुरक्षाबलों द्वारा केवल परेड और सलामी दी जाएगी।

गंणतंत्र दिवस की तैयांरियां
गंणतंत्र दिवस की तैयांरियां

समारोह में विशेष रूप से कोरोना वारियर्स, डाॅक्टरों, पुलिसकर्मियों, स्वास्थ्यकर्मियों और स्वच्छताकर्मियों को सम्मानित किया जाएगा। आयोजन के दौरान कोविड-19 से बचाव के लिए सभी निर्देशों का पालन और उपाए किए जाएंगे। गणतंत्र दिवस समारोह के आयोजन में स्कूली छात्र-छात्राओं को नहीं बुलाया जाएगा।

राजधानी में राज्यपाल करेंगी ध्वजारोहण

गणतंत्र दिवस की रात में प्रदेश के सभी शासकीय, सार्वजनिक भवनों, राष्ट्रीय महत्व के स्मारकों पर रोशनी की जाएगी। साथ ही सभी शासकीय और सार्वजनिक भवनों पर राष्ट्र ध्वज फहराया जाएगा। राज्यपाल अनुसुईया उइके गणतंत्र दिवस समारोह में ध्वजारोहण करेंगी। ध्वजारोहण के बाद पुलिस और अर्द्धसैनिक बलों द्वारा सलामी दी जाएगी।

कोरोना वारियर्स का होगा सम्मान

कोरोना काल में निरंतर सेवा देने वाले कोरोना वारियर्स को इस अवसर पर सम्मानित किया जाएगा। जिला स्तर पर आयोजित गणतंत्र दिवस समारोह में मुख्य अतिथि के द्वारा ध्वजारोहण किया जाएगा। इसके बाद जनता के नाम मुख्यमंत्री के संदेश का वाचन होगा। जनपद पंचायत कार्यालयों में जनपद अध्यक्ष और नगरीय निकायों में महापौर, अध्यक्ष ध्वजारोहण करेंगे। इसी तरह पंचायत मुख्यालयों में सरपंच ध्वजारोहण करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here